www.IslamInHindi.org

रमज़ान उल मुबारक

हे विश्वासियों! रोज़ा तुमहारे लिए निर्धारित है, क्योंकि यह उन लोगों के लिए भी था जो तुम से पहले थे ताकि तुम बुराई से दूर रह सको!. रोज़े (उपवास) के दिन की एक निश्चित संख्या है ... (पवित्र कुरान अध्याय 2, छंद 182-183)
       
       
       
       
       
     
मुनाजात - इमाम अली (अस) दुआए अबू हमज़ा सुमाली रोज़ दिन की दुआ अमाल शबे क़द्र - 19,21,23 रमज़ान
महीने के सलवात दुआए जोशन कबीर रोज़ रात की दुआ
10 तस्बीह दुआए जोशन सगीर रोज़े शुरू करने की दुआ   अमाल के बाद की ज्यारतें 
पहली  शव्वाल / ईद दुआए मकरिमुल अखलाक रोज़ा ख़तम करने की दुआ
सुरः रूम दुआए एतिकाफ नमाज़ की बाद दुआ   रमज़ान की दुआएं सुने    (MP3 आडिओ)  
सुरः दूखान मिकाएलुल  मकारिम की दुआएं आखरी दस रात
सुरः अनकबूत कुरान के पहले और आखरी की दुआ आखरी जुमा रोज़ा और रोज़दारों के लिए क़ानून और इसके अहकाम
  दुआए इफ्तिताह आखरी रात
 
iPhone  अप्लिकेशन डाउनलोड

 

Android अप्लिकेशन डाउनलोड

 

मोबाइल फोन पर ईस्लामिक जानकारी

कृपया अपना सुझाव भेजें

sये साईट कॉपी राईट नहीं है

हिजरी-तारीख़
यह तारीख़ जगह और वक़्त के हिसाब से बदल सकती है, कृपया अपने स्थानीय ईस्लामिक सेंटर से संपर्क करें